पेश करते है भारत का सबसे बड़ा बिज़नेस पार्टनर प्रोग्राम

  • 9 रेवेन्यू स्रोतसे कमाएँ
  • पारदर्शी इनकम कमाए। बिना कोई शर्त।
  • अंतरराष्ट्रीय ब्रांड : परिचय की आवश्यकता नहीं है
  • आकर्षक दरें : आकर्षक रेवेनुए

निमन्त्रण द्वारा केवल 1,000 पार्टनर्स का रजिस्ट्रेशन किया जायेगा!

असीमित, अविश्वसनीय
रेवेन्यू शेयरिंग

ब्रोकरेज

हर सेगमेंट में 100% शेयरिंग

100% शेयरिंग

  • अकाउंट मेंटेनेंस चार्ज (AMC)
  • अकाउंट ओपनिंग फीस
  • DP ट्रांजेक्शन चार्ज
  • प्लेज, अनप्लेज चार्ज
  • पार्टनर सर्विस फी (सालाना)
  • प्लान संशोधन फी
इनके द्वारा सबसे ज़्यादा शेयरिंग के साथ आवर्ती इनकम कमाए,
  • MTF (ईमार्जिन)

    9.99% से ज्यादा पर 80% शेयरिंग

  • मार्जिन प्लेज

    11.99% से ज्यादा पर 80% शेयरिंग

आपके बड़े सपनों को उड़ान दें, Mirae Asset के साथ

हमारा पार्टनर प्रोग्राम आप और आपके क्लाइंट के लिए अविश्वसनीय रूप से किफ़ायती कीमत और आसान टेक्नोलॉजी प्लेटफॉर्म ऑफर करता है। यह आपको पूरा कंट्रोल और ओनरशिप देता है, जिससे आपकी हम पे निर्भरता कम होती है। डिटेल्ड पेआउट टर्म्स के लिए यहाँ क्लिक करें

उदाहरण के साथ इनको विस्तृत रूप से समझते हैं :

  • ब्रोकरेज
    1.5X या ज्यादा कमाएं
    • क्लाइंट
      300
    • प्रति क्लाइंट की सालाना ब्रोकरेज
      ₹12,000
    • कुल सालाना ब्रोकरेज
      ₹36 Lakh
    सालाना पेआउट
    इंडस्ट्री
    ₹25.20 Lakh (70%)
    1.5X
    Mirae Asset
    ₹36 Lakh (100%)
    खास फायदे: आपके क्लाइंट की जरूरतों के आधार पर डिस्काउंट, ट्रेडिशनल और हायब्रिड मॉडल में किसी एक को चुनें
  • MTF (ईमार्जिन) इंटरेस्ट
    Know How ?
    2X या ज्यादा कमाएं
    • MTF क्लाइंट
      100
    • MTF बुक
      ₹3 crore
      (प्रति क्लाइंट का ₹3 लाख मानते हुए)
    • इंटरेस्ट
      18% p.a.
    विवरण इंडस्ट्री Mirae Asset
    MTF एक्टिव क्लाइंट 100 100
    कुल MTF बुक, (₹3 लाख को एवरेज बुक साइज मानते हुए) ₹3 crore ₹3 crore
    एवरेज इंटरेस्ट रेट 18% 18%
    बेस रेट (ब्रोकर की ओर से बनाए रखा) 12% 9.99%
    बेस रेट से ज्यादा इंटरेस्ट शेयरिंग 50% 80%
    सालाना MTF इंटरेस्ट पेआउट ₹9 Lakh (50%) ₹19.22 Lakh (80%)
    सालाना इंटरेस्ट पेआउट
    इंडस्ट्री
    ₹9 Lakhs(50%)
    2X
    Mirae Asset
    ₹19.22 Lakh(80%)
    खास फायदे : 9.99% से 24% के बीच MTF इंटरेस्ट रेट कस्टमाइज करें.
  • मार्जिन प्लेज इंटरेस्ट
    Know How ?
    1.5X और ज्यादा कमाएं
    • मार्जिन प्लेज एक्टिव क्लाइंट
      100
    • कुल मार्जिन प्लेज बुक
      ₹2 crore
      (प्रति क्लाइंट का ₹2 लाख मानते हुए)
    • एवरेज इंटरेस्ट रेट
      18% p.a.
    अनुमान इंडस्ट्री Mirae Asset
    मार्जिन प्लेज एक्टिव क्लाइंट 100 100
    कुल मार्जिन प्लेज बुक,(₹3 लाख को एवरेज बुक साइज मानते हुए) ₹2 crore ₹2 crore
    एवरेज इंटरेस्ट रेट 18% 18%
    बेस रेट(ब्रोकर की ओर से बनाए रखा) 12% 11.99%
    बेस रेट से ज्यादा पर इंटरेस्ट शेयरिंग 50% 80%
    सालाना मार्जिन प्लेज इंटरेस्ट पेआउट ₹6 Lakh (50%) ₹9.61 Lakh (80%)
    सालाना इंटरेस्ट पेआउट
    इंडस्ट्री
    ₹6 Lakh (50%)
    1.5X
    Mirae Asset
    ₹9.61 Lakh (80%)
    खास फायदे: 11.99% से 24% तक मार्जिन प्लेज इंटरेस्ट कस्टमाइज करें।
  • DP सेल ट्रांजेक्शन चार्ज
    Know How ?
    22X या ज्यादा कमाएं
    • दिन के कितने स्क्रिप्स बेचें
      25
    • चार्जेज
      ₹12 - ₹25
    • सालाना चार्जेज
      ₹72,000 - ₹1,50,000
      इंडस्ट्री Mirae Asset
    दिन के कितने स्क्रिप्स बेचें 25 25
    एवरेज डीपी ट्रांजेक्शन चार्ज ₹12 ₹12
    कस्टमाइज किए हुए डीपी ट्रांजेक्शन_चार्ज NA ₹25
    सालाना डीपी ट्रांजेक्शन चार्ज ₹72,000 ₹1,50,000
    पेआउट रेट 5% (बेस रेट पर) 100%(बेस रेट के ऊपर)
    बेस रेट के ऊपर का सालाना पेआउट ₹3,600 ₹78,000
    सालाना पेआउट
    इंडस्ट्री
    ₹3,600 (5%)
    22X
    Mirae Asset
    ₹78,000 (100%)
    खास फायदे: ₹12 से ₹25 तक DP सेल ट्रांजेक्शन कस्टमाइज करें

इतना ही नहीं, आपको विभिन्न अन्य चार्जेज से भी फायदा मिल सकता है।

  • अकाउंट ओपनिंग फीस ₹9,999 तक चार्ज करने का मौका
    ₹500 से ऊपर कुछ भी 100% आपका!

  • अकाउंट मेंटेनेंस चार्ज (DP AMC) ₹4,999 तक चार्ज करें - 100% कमाएं

  • प्लेज, अनप्लेज चार्ज (MTF, मार्जिन प्लेज) स्टैंडर्ड प्लान में से चुनें – 20% कमाएं
    या कस्टमाइज करें और 100% कमाएं

'Mirae Asset' के फायदे

हमारे साथ साझेदारी करके आपके बिजनेस को बहुत से फायदे होंगे। जानिये आपको क्या क्या मिलेगा।

1 अपने क्लाइंट के मुताबिक कीमत तय करें

आपके क्लाइंट की भविष्य में होने वाली ऑनबोर्डिंग के लिए वन-टाइम एक्टिविटी के तौर पर ब्रोकरेज प्लान बनाएं। अपने क्लाइंट की विभिन्न जरूरतों के लिए डिस्काउंट, ट्रेडिशनल या हायब्रिड मॉडल में से चुनें, फिर ब्याज की दर, DP चार्ज आदि कस्टमाइज करें और अपनी कमाई को बढ़ाएं।

2 प्रभावशाली डैशबोर्ड के माध्यम से बिजनेस करें

3 कुछ ही पलों में अपने क्लाइंट को ऑनबोर्ड करें

  • क्लाइंट के लिए उनकी जगह पर यह करें और सिर्फ डॉक्यूमेंटेशन के लिए
    उनके साथ लिंक शेयर करें

  • क्लाइंट के साथ ज्वाइनिंग लिंक शेयर करें और उन्हें यह
    खुद करने दें

  • ज्यादा ऑनबोर्डिंग के लिए लिस्ट अपलोड करें और एक बार में कई क्लाइंट
    ऑनबोर्ड करें

  • 4 वैश्विक रूप से विश्वसनीय ब्रांड

    17 देशों में 25+ साल के अनुभव के साथ

  • 5 डिसरप्टिव बिजनेस मॉडल

    बेस्ट ब्रोकरेज और ब्याज दर प्लान के साथ

  • 6 पारदर्शी बिजनेस मॉडल

    बिजनेस बड़ा हो या छोटा बिना असमानता के साथ

  • 7 हाई पेआउट

    9 आय करने वाले माध्यमों में

  • 8 ब्रांड स्थापित करें

    क्लाइंट ऐप और वेब ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म पर जागरूकता के साथ

  • 9 खास सर्विस डेस्क

    आपके लिए

  • 10 स्थाई प्लेटफॉर्म

    25 लाख+ ट्रेड प्रति दिन

इसमें आपके क्लाइंट के लिए क्या है?

सिर्फ 22 महीनों में...

  • भरोसा
    9 लाख+ ग्राहकों का
  • ₹45 करोड़+ ट्रेड
    को सेवा
  • MTF बुक
    ₹1,130 करोड़+ की

अक्सर पूछे जाने वाले सवाल

Authorized Person (पहले सब-ब्रोकर के रूप में जाना जाता था) आम तौर पर यह व्यक्ति ट्रेडिंग प्लेटफ़ॉर्म का एक्सेस देता है और स्टॉकब्रोकर और क्लाइंट के बीच इनवेस्टमेंट में मदद करता है। AP, NSE और BSE में रजिस्टर्ड होते हैं और वे उनके लिए एक एडवांस बिजनेस नेटवर्क बनाने के लिए, स्टॉकब्रोकिंग हाउस के एजेंट के रूप में काम करते हैं।

AP कोई इंडिविजुअल, पार्टनरशिप फ़र्म, LLP या कोई कॉर्पोरेट संस्था हो सकता है।

Authorized Person की पहली जिम्मेदारी क्लाइंट को रजिस्टर करना और उनकी ट्रेडिंग ज़रूरतों में मदद करना है। वे सिक्योरिटीज को खरीदने, बेचने में मदद करते हैं और पूर्व अनुमति के साथ क्लाइंट की ओर से ट्रेड करने का अधिकार रखते हैं।

Individual: 18 साल से ज़्यादा उम्र का भारतीय निवासी

Partnership firm: कोई फ़र्म जो इंडियन पार्टनरशिप एक्ट, 1932 के तहत रजिस्टर्ड हो
LLP: कोई फ़र्म जो इंडियन लिमिटेड लायबिलिटी पार्टनरशिप एक्ट, 2008 के तहत रजिस्टर्ड हो
Corporate: कोई फ़र्म जो इंडियन कंपनी एक्ट, 1956 के तहत रजिस्टर्ड हो।

नहीं, HUF को AP के रूप में रजिस्टर नहीं किया जा सकता। AP बनने के लिए, कोई व्यक्ति, कोई पार्टनरशिप फ़र्म, कोई एलएलपी या कोई कॉर्पोरेट संस्था ही योग्य है।

नहीं, किसी मौजूदा अधिकृत पार्टनर का डायरेक्टर या पार्टनर, किसी भी तरह नए AP के रूप में रजिस्टर नहीं कर सकता है।

किसी व्यक्ति के AP बनने के लिए पात्रता नीचे दिए गए हैं।

  • भारत का नागरिक होना चाहिए
  • उम्र 18 साल या उससे ज़्यादा होनी चाहिए
  • केंद्र या राज्य सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त 10 वीं कक्षा या समकक्ष परीक्षा उत्तीर्ण होना चाहिए
  • धोखाधड़ी या बेईमानी से जुड़े किसी भी अपराध के लिए दोषी नहीं ठहराया जाना चाहिए
  • एक प्राधिकृत व्यक्ति जिसे लगातार छह महीने से ज़्यादा के लिए निलंबित किया गया था, उन्हें दोबारा नियुक्त होने से पहले तीन साल तक इंतजार करना होगा।

किसी पार्टनरशिप फ़र्म के AP बनने के लिए पात्रता मानदंड नीचे दिए गए हैं।

  • सभी पार्टनर या डायरेक्टर को 'व्यक्तिगत' श्रेणी के लिए ऊपर दिए गए पात्रता मानदंडों का पालन करना चाहिए
  • पार्टनरशिप डीड या मेमोरेंडम ऑफ़ एसोसिएशन में शेयर और सिक्योरिटीज बिजनेस में डील करने की अनुमति देने वाला एक क्लॉज होना चाहिए

स्टॉकब्रोकर की ओर से अपने क्लाइंट को असरदार तरीके से सर्विस देने के लिए Authorized Person के पास ऑफ़िस के लिए पर्याप्त जगह, इक्विपमेंट, मैनपावर और दूसरी इंफ्रास्ट्रक्चरल फ़ैसिलिटी होनी चाहिए, जिन्हें एक्सचेंज समय-समय पर तय कर सकता है।

नहीं, वे ज़रूरी पात्रता नहीं हैं।

रजिस्ट्रेशन प्रोसेस के एक हिस्से के रूप में, AP बनने के लिए, एक पार्टनरशिप फ़र्म को पार्टनरशिप डीड के साथ फ़र्म का रजिस्ट्रेशन (ROF) सर्टिफ़िकेट जमा करना होता है।

नहीं, स्टॉकब्रोकर और Authorized Person के बीच एग्रीमेंट के सिर्फ़ उस फॉर्मेट में साइन होना ज़रूरी है जो एक्सचेंज द्वारा सर्कुलर नंबर 705 (डाउनलोड रेफरेंस नंबर 13601)दिनांक 3 दिसंबर 2009 के जरिए तय किया गया है।

हां। हालांकि, Authorized Person की नियुक्ति का आवेदन करते समय अपलोड किया गया एग्रीमेंट, एक्सचेंज द्वारा तय फॉर्मेट के अनुसार ही होना चाहिए

नहीं, अगर आप सेबी के मौजूदा सब-ब्रोकर हैं तो आपको सबसे पहले अपना सब-ब्रोकर रजिस्ट्रेशन कैंसिल करना होगा। ऐसा करने के बाद, आप एक्सचेंज में Authorized Person (AP)बनने के लिए आवेदन कर सकते हैं।

नहीं, कोई Authorized Person किसी भी समय सिर्फ़ एक स्टॉक ब्रोकर से संगठन हो सकता है

नहीं, आपको पहले वर्तमान स्टॉकब्रोकर के माध्यम से किए गए अपने AP रजिस्ट्रेशन को कैंसिल करना होगा। ऐसा करने के बाद, आपको दूसरे स्टॉकब्रोकर के जरिए एक नए AP रजिस्ट्रेशन का आवेदन करना होगा जिससे आप जुड़ना चाहते हैं।

हां, एक AP को कई कार्यालय रखने की अनुमति है।

हां, अगर पार्टनर या डायरेक्टर का नाम कंपनी के बोर्ड ऑफ़ मेंबर द्वारा पारित अधिकृत हस्ताक्षरकर्ता के रूप में या उनकी पार्टनरशिप डीड/एलएलपी समझौते में दिया गया है, तो वे फ़र्म की ओर से e-Sign कर सकते हैं। एक्सचेंज द्वारा तय फ़ॉर्मेट के अनुसार एक लेटर सबमिट किया जाना चाहिए, जिसे यहां देखा जा सकता है|

अगर आप पहले से ही किसी अन्य स्टॉकब्रोकर के साथ AP के रूप में रजिस्टर्ड हैं, तो आपके पास मिरे एसेट पार्टनर में शामिल होने के तीन तरीके हैं:

  • अपने मौजूदा स्टॉकब्रोकर के साथ अपना AP रजिस्ट्रेशन कैंसिल करें; या
  • एक नए नाम के तहत आवेदन करें जो AP के रूप में Exchange के साथ रजिस्टर्ड नहीं है; या
  • अगर आप अपना रजिस्ट्रेशन कैंसिल नहीं कर सकते हैं या नए नाम के तहत आवेदन नहीं कर सकते हैं, तब भी आप हमारे संबद्ध कार्यक्रम में शामिल हो सकते हैं।

Mirae Asset एक संगठन चलाता है जहां आप अपने क्लाइंट या कम्यूनिटी को m.Stock के बारे में बता सकते हैं और खोले गए हर नए कस्टमर अकाउंट पर आकर्षक कमीशन पा सकते हैं।

सिक्योरिटी डिपॉज़िट:50,000 रुपये (रिफ़ंडेबल)

डॉक्यूमेंट हैंडलिंग चार्ज: 1,500 (ईफ्रैंकिंग और ई-साइन चार्ज)

वन-टाइम एक्सचेंज रजिस्ट्रेशन चार्ज:

AP रजिस्ट्रेशन चार्ज
एक्सचेंज सेगमेंट फ़ीस (रुपये) GST % GST मात्रा कुल चार्ज (₹)
NSE कैपिटल मार्केट 5,000 18% 900 5,900
NSE एफ एंड ओ 5,000 18% 900 5,900
BSE कैपिटल मार्केट 4,000 18% 720 4,720
कुल रजिस्ट्रेशन चार्ज सभी सेगमेंट 14,000 18% 2,520 16,520

April 2024 से लागू AP सालाना मैंटेनेंस चार्ज:

NSE-AMC सभी सेगमेंट 5,000 18% 900 5,900
BSE-AMC सभी सेगमेंट 4,000 18% 720 4,720
कुल एएमसीl NSE&BSE 9,000 18% 1,620 10,620